एक दिन… — dilkiaawazsunoblog

हर शाम की तरह एक दिन तनहा हम बैठे थे, दिल के लफ़्ज़ों को कागज़ पर उतरा करते थे. ये सिलसिला मेरी तन्हाइयों तक सिमित था, ख्याल मुझमे और चन्द कागज़ के टुकड़ों तक सिमित था. जाने क्यों एक दिन पंख लगे ख्यालों को, उड़ कर जा बैठा ऊँची शाखों पर. कुछ दिखता धुन्दला दूर […]

via एक दिन… — dilkiaawazsunoblog

 

af35d35db6aeee2bbcedd0fd3323b1f8
Welcome dilkiaawazsunoblog

 

It’s my pleasure welcoming a new blogger dilkiaawazsunoblog and a sensitive writer. 

Do follow her blog and help her grow

Advertisements

18 thoughts on “एक दिन… — dilkiaawazsunoblog

      1. Why Not Ma’am
        Online hi Reh Likha Ja Raha hai.

        ” बहुत एहमियत होती एक दिन की ‘सागर’,
        एक दिन में क्या से क्या हो जाए.!
        किसी को मिले एक दिन में ज़िंदगी’सागर’,
        किसी की एक दिन तबाहा हो जाए.!!
        वो दिन ही होता जो कोई पैदा होता’सागर’,
        धरती पर आ अच्छा-बुरा कर जाए.!
        जवानी आती एक दिन हर किसी को’सागर,
        जो संजोए-संवारे वो अमर हो जाए.!!
        एक दिन उंगली पकड़ चलना सिखाती’सागर’,
        वही माँ बाद उंगली को तरस जाए.!
        पढ़ा-लिखा पाल-पौस जिसे बड़ा करती’सागर’,
        एक दिन से केवल बीवी का हो जाए.!!
        एक दिन ही नज़र मिलती है किसी से’सागर’,
        जन्म-ओ-जन्म का नाता हो जाए.!
        दो जिस्म एक दिन ही एक जान होते’सागर’,
        नयी उत्पत्ति का सर्जन हो जाए.!!
        एक दिन सौच पंक्तियाँ लिख गया’सागर’,
        नस्लों को कुछ उम्मीद हो जाए.!
        एक दिन ही होगा जहाँ में जब रहेगा ना’सागर’,
        यादों में चर्चा’सागर’का हो जाए.!! “

        Liked by 1 person

      2. sagar ji mail me all your details. i’ll also take a brief interview of you. details are as follows
        You have something to share with the world….?
        Share it here at atrangizindagieksafar on the Guest post, “Be my Guest Aboard!” at https://atrangizindagieksafar.wordpress.com/2016/11/26/inviting-guests-aboard/
        Send your material here (ranjeetanathghai@gmail.com) with your text, a photo related to the text, a photo with you and a short description of you or of your blog and the very next weekend you will be online on atrangizindagieksafar!

        Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s