Category: HINDI POETRY

GUEST POST HINDI POETRY

Guest Post: Rishika Ghai

कन्यायों का अधिकार   सोच बदलो बदलाव आएगा पर यह संभव नहीं जब तक पित्र्सत्तात्मक समाज कन्यायों को सम्मान नहीं दे पाएगा| आज़ादी के कई वर्षो बाद भी हमारा देश आज़ाद नही गुलाम है पित्र्सत्ता के दौर में कन्यायों को पुरुषो से मिलता कम सम्मान है| इस दौर की विडम्बना …

Instagram